Filmi Tarj Kitni Karein Khushamad: कितनी करें खुशामद लिरिक्स और सरगम नोट्स

SHARE:

Filmi Tarj Kitni Karein Khushamad Lyrics, कितनी करें खुशामद लिरिक्स

Filmi Tarj Chudi Maza na degi Notation
Filmi Tarj Kitni Karein Khushamad Lyrics

यहाँ Filmi Tarj Kitni Karein Khushamad Lyrics, कितनी करें खुशामद लिरिक्स  दिया गया है |

कितनी करें खुशामद, कितना तुम्हे मनायें

अश्कों के फूल मोहन, कितने तुम्हे चढ़ायें

कितनी करें खुशामद, कितना तुम्हे मनायें ||

 

तेरे मिजाज़ का तो मोहन नहीं ठिकाना,

लगता कभी तू अपना, लगता कभी बेगाना

आदत से अपनी हमको इतना तो ना रुलायें |

कितनी करें खुशामद, कितना तुम्हे मनायें ||

 

अपना समझ के तुमसे हमने तो रिश्ता जोड़ा,

तेरे लिए कन्हैया, अपनों से नाता तोड़ा,

इतने सुने हैं ताने, कितने तुम्हे गिनाएं |

कितनी करें खुशामद, कितना तुम्हे मनायें ||

 

तेरे बगैर मोहन कुछ भी नज़र ना आता

एक तू है तुम्हे मेरा गम नज़र ना आता

मजबूर होके जीना, जीना ना हमको भाये |

कितनी करें खुशामद, कितना तुम्हे मनायें ||

 

कैसे गुजर करें हम आकर जरा बता दे

बैठे हैं मोड़ पर हम मंजिल जरा दिखा दे

भक्तों से मिला के नज़रें, नज़रें तो ना चुरायें |

 

कितनी करें खुशामद, कितना तुम्हे मनायें

अश्कों के फूल मोहन, कितने तुम्हे चढ़ायें

कितनी करें खुशामद, कितना तुम्हे मनायें ||

 

Filmi Tarj Kitni Karein Khushamad Notation

इस Filmi Tarj Kitni Karein Khushamad में लगनें वाले स्वर – मंद्र सप्तक का एक शुद्ध ध और मध्य सप्तक का सा, रे, ग, म, प और ध |

  • इस Filmi Tarj Kitni Karein Khushamad Notation में सभी स्वर शुद्ध हैं इसलिए किसी भी स्वर पर कोई चिन्ह नहीं लगाया गया है |

कितनी करें खुशामद, कित ना-  तुम्हे मनायें 

गगग  रेग  रेसारेरे,     रेरे  .धरे   रेग  रेसासा

अश्कों- के फूल मोहन, कितने-  तुम्हे- चढ़ा–यें-

ग-गप प  पध  पमम,  मममध  पपम मपमगरेसा

कितनी करें खुशामद, कित ना-  तुम्हे मनायें

गगग  रेग  रेसारेरे,      रेरे  .धरे   रेग  रेसासा

 

तेरे मिजाज़ का तो मोहन नहीं- ठिकाना,

पध पपम   म    प  पधध पपम ममप

लगता कभी तू अपना, लगता कभी बेगाना

परेरे   रेग     ग ममम,  ममम  धप  पपप

लगता कभी बेगाना

ममम गम  गरेसा

आ-दत से अपनी हमको इतना-  तो ना- रुला–यें- |

ग-गप प  पपध  पमम, मममध प पम मपमगरेसा

कितनी करें खुशामद, कित ना-  तुम्हे मनायें

गगग  रेग  रेसारेरे,      रेरे  .धरे   रेग  रेसासा

अपना समझ  के तुमसे हमने तो रिश्ता जोड़ा,

पधध  प-प   म म-प  पधध प  पम   मप

तेरे-  लिए कन्हैया-, अपनों से नाता तोड़ा,

परेरे  रेग  गममम, ममम ध  पप  पप

अपनों से नाता तोड़ा

ममम ग मग  रेसा

इ-तने सुने-  हैं ताने, कितने-  तुम्हे- गिना–एं- |

ग-गप पपध प मम,  मममध पपम  मपमगरेसा

कितनी करें खुशामद, कित ना-  तुम्हे मनायें

गगग  रेग  रेसारेरे,      रेरे  .धरे   रेग  रेसासा

 

तेरे बगैर मोहन कुछ भी नज़र ना आता

पध पपम म-प  पध ध पपम  म मप

ए-क तू है तुम्हे मेरा गम नज़र ना आता

परेरे  रे ग गम मम, मम मधप प  पप

गम नज़र  ना आता

मम मगम ग  रेसा

मजबूर हो-के  जीना, जी-ना ना हमको भा–ये– |

ग-गप  पपध  पम,  ममम ध  पपम  मपमगरेसा

कितनी करें खुशामद, कित ना-  तुम्हे मनायें

गगग  रेग  रेसारेरे,      रेरे  .धरे   रेग  रेसासा

 

कैसे गुजर करें हम  आकर  जरा-  बता दे

पध पपम  म  प   पधध  पपम मम प

बैठे हैं मोड़ पर हम   मंजिल जरा दिखा दे

परे रे  रेग गम मम, ममम  धप पप  प

मंजिल जरा दिखा दे

ममम  गम गरे  सा

भक्तों से मिला के नज़रें, नज़रें तो ना–   चुरा–यें- |

गगप  प  पप  ध पपम, ममम ध पपम  मपमगरेसा

 

कितनी करें खुशामद, कित ना-  तुम्हे मनायें 

गगग  रेग  रेसारेरे,     रेरे  .धरे   रेग  रेसासा

अश्कों- के फूल मोहन, कितने-  तुम्हे- चढ़ा–यें-

ग-गप प  पध  पमम, मममध  पपम मपमगरेसा

कितनी करें खुशामद, कित ना-  तुम्हे मनायें

गगग  रेग  रेसारेरे,      रेरे  .धरे   रेग  रेसासा


SHARE:

Leave a Comment